माओवादियों ने अगवा कर दो ग्रामीणों को उतारा मौत के घाट।एक बार फिर माओवादियों का वही आरोप, पुलिस के मुखबिर थे


0

छह दिन पहले बचेली से अपहरण कर ले गए थे माओवादी ग्रामीणों को बचेली थाना क्षेत्र में रेलवे स्टेशन के पास गला रेत कर फेंका दोनों ग्रामीणों का शव दंतेवाड़ा। माओवादियों ने आखिरकार छह दिनों तक बंधक बनाए रखने के बाद ग्रामीणों को मौत के घाट उतार ही दिया। बचेली थाना क्षेत्र के रेलवे स्टेशन के पास पड़े शवों को देख सनसनी फैल गई। सोमवार देर रात की इस खबर ने पूरे इलाके को दहशतजदा कर दिया है। शवों के पास माओवादियों ने पर्चे भी फेंके हैं। इन पर्चो में उन्होंने साफ लिखा है कि दोनों पुलिस के लिए काम कर रहे थे। वारदात की जिम्मेदारी पश्चिम डिविजनल भैरमगढ़ एरिया कमेटी ने ली है। पुलिस ने शवों को कब्जे में ले कर तहकीकात शुरू कर दी है। मृतकों में एक बचेली निवासी हुंगा कर्मा है। वही दूसरे का पुलिस पतासाजी कर रही है। माओवादी पर्चा में मुखबिर और गोपनीय सैनिक होने की बात लिखी है। मारे गए दोनों ग्रामीणों का माओवादी पर्चे में नाम का उल्लेख किया गया है। दूसरे का नाम मुचाकी भीमा होने का दावा माओवादी पर्चो में कर रहे हैं। पुलिस मुचाकी की पहचान न हाने की बात कह रही है। बचेली थाना प्रभारी सौरभ सिंह ने बताया कि सोमवार देर रात सुचना मिली थी कि रेलवे स्टेशन के पास दो शव पड़े है। थाना पुलिस वहां तत्काल पहुंची। शवों को कब्जे में लिया और उनको मोरचरी में रखवाया गया है। फिलहाल एक की पहचान हुई है और दूसरे मृतक के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। जिले के सभी थानों में पता किया जा रहा है। साथ ही बीजापुर और सुकमा जिलों के थानों से भी पतासाजी की जा रही है।



Like it? Share with your friends!

0

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Choose A Format
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals